बाजार में विक्रेताओं के लिए शिष्टाचार के नए नियम New rules of etiquette for sellers in the market

बाजार में विक्रेताओं के लिए शिष्टाचार के नए नियम 

New rules of etiquette for sellers in the market


कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए एवं इससे बचाव हेतु स्वास्थ्य मंत्रालय ने शिष्टाचार के नए नियम दिए है। इन नियमो को अपनाकर आप स्वयं और अपने आसपास के लोगो को सुरक्षित रख सकते है।
New rules of etiquette for sellers in the market
New rules of etiquette for sellers in the market
कोरोना महामारी की वर्तमान स्थिति को देखा जाय तो कोई भी देश इस समस्या से अछूता नहीं रहा। इस समस्या को निपटने हेतु सभी देश और दुनिया की वहां सरकारे लॉकडाउन का नियम अपना रहे हैं। वही भारतवर्ष में भी लॉकडाउन की प्रथम चरण 22 मार्च से प्रारंभ होकर वर्तमान में अभी पांचवी लॉकडाउन 1 जून से 30 जून तक विभिन्न दिशा निर्देशों के साथ लागू किया गया। इस परिस्थिति को निपने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्वास्थ्य की देखभाल के लिए अनेक नियम और निर्देश जारी किया जो कोरोना महामारी के प्रतिकूल प्रभावित रहा।

आइए जाने बाजार में विक्रेताओं के लिए शिष्टाचार के नए नियम क्या हैं
New rules of etiquette for sellers in the market

1) अधिक प्रयोग आने आने वाली चीजें जैसे स्विचबोर्ड, टेबल, काउंटर और परिसर के सतहों का नियमित सफाई करें।

2) मॉल व प्राइवेट शॉप के शौचालय, लिफ्ट एवं उपयोगी एरिया का साफ सफाई अनिवार्य रूप से करें।

3) मॉल के गेट या प्रवेश स्थान पर सभी आने वाले कस्टमर का थर्मल स्क्रीनिंग किया जाय।

4) इनडोर कूलिंग की व्यवस्था अनिवार्य किया जाय।

5) फेस मास्क व दस्तानों के प्रबंधन हेतु उचित व्यवस्था किया जाय।
New rules of etiquette for sellers in the market
New rules of etiquette for sellers in the market
6) काम करने वाले कर्मचारियों और कस्टरम के बीच कम से कम 1 मीटर की दूरी सुनिश्चित हो।

7) प्रमुख स्थानों पर राज्य हेल्प लाइन नम्बर 1075 और 08046110007 जरूर प्रदर्शित रहे।

7) मास्क न पहनने वाले कस्टरम से दूरी बनाए रखे।

8) आवश्यक रहने पर ही कस्टरम समान को छुए अन्यथा नहीं।

इन सभी नियमो को अपनाकर कोरोना वायरस के संक्रमण से बचा जा सकता है।
इस पेज से जुड़े रहने के लिए धन्यवाद। रोजक जानकारी के साथ हमारे पेज पर बने रहे।

इन्हें भी पढे-
कोरोना वायरस के क्या है लक्षण फैलाव और इनके बचाव कैसे करें

Previous
Next Post »